Breaking News
माधुरी दीक्षित के साथ जब इस अभिनेता ने कर दी थी गलत हरकत, फुट-फुटकर रोई थी माधुरी हेमा मालिनी और धर्मेंद्र पर टूटा दुखो का पहाड़, बेटी को लेकर आयी बेहद बुरी खबर, पूरा परिवार सदमे में मात्र 417 रुपये का निवेश बना सकता है करोड़पति, हो जायेंगे मालामाल, ऐसे समझे इन्वेस्टमेंट गणित Ration Card New Rule : मुफ्त राशन पर बदल गया नियम, गेहूं और चावल के लिए जरूरी करें यह काम Gold-Silver Price Today : सुबह – सुबह धड़ाम हुए सोने के दाम, खरीददारी करने टूटे लोग, गिरकर 47 हजार के नीचे पहुंच रेट
Monday, 26 February 2024

World

रुसी राष्ट्रपति की बेटियां रखती है बिज़नेस में रूचि, जाने क्या कर रहीं है वे

14 April 2022 01:11 AM Mega Daily News
पुतिन,बेटियों,तिखोनोवा,दोनों,मारिया,वोरोत्सोवा,कटरीना,हालांकि,उन्होंने,मेडिकल,कंपनी,कोऑनर,वर्षीय,स्टार्टअप,सेंटर,,russian,presidents,daughters,interested,business,know

कई दशकों से, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की पहली शादी से उनकी दो बेटियों का रहस्मयी जीवन चर्चा का विषय रहा है. अब उनके बच्चों मारिया वोरोत्सोवा (Maria Vorontsova) और कटरीना तिखोनोवा (Katerina Tikhonova) पर लगे प्रतिबंधों ने एक बार फिर उन्हें और उनके विदेशों में फैले व्यापारिक सौदों को लाइम लाइट में ला दिया है. हालांकि पुतिन सार्वजनिक रूप से इन दोनों को अपनी बेटियों के रूप में स्वीकार नहीं करते हैं. एक बड़े पैमाने पर कहा जाए तो यह सांकेतिक कदम है क्योंकि यह स्पष्ट नहीं है कि उनके पास रूस के बाहर कोई बड़ी संपत्ति है.

2011 में बेटियों पर दिया था बयान

पुतिन ने साल 2011 में एक टीवी साक्षात्कार में कहा था कि उनकी बेटियां 'साधारण जीवन' जीती हैं. साथ ही उन्होंने कहा था, 'वे राजनीति या व्यवसाय में शामिल नहीं हैं, भगवान का शुक्र है. ऐसा प्रतीत होता है कि बाद के वर्षों में यह बयान अब झूठा साबित हो रहा है. दोनों बेटियों ने शिक्षा के दौरान व्यावसायिक क्षेत्रों में कदम रखा है.

मेडिकल कंपनी की हैं को-ऑनर

गौरतलब है कि 36 वर्षीय मारिया वोरोत्सोवा एंडोक्रिनोलॉजिस्ट हैं. वह नोमेको नामक एक मेडिकल कंपनी की को-ऑनर हैं, जो हाई-टेक डायग्नोस्टिक्स और ट्रीटमेंट पर केंद्रित हैं. 

स्टार्टअप बढ़ा रही छोटी बेटी

पुतिन की छोटी बेटी, 35 वर्षीय कटरीना तिखोनोवा को मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी के पास ही एक साइंस सेंटर और स्टार्टअप इनक्यूबेटर डेबलप करने के लिए $1.6 बिलियन के प्रोजेक्ट से जोड़ा गया था. उन्होंने जो लागत लगाई है उसे एलीट स्कूल के आर्टिफिशियल-इंटेलिजेंस सेंटर और इसके सिस्टर फंड को नेशनल इंटेलेक्चुअल डेवलपमेंट फंड कहा जाता है. दोनों का प्रबंधन इनोप्रैक्टिका फाउंडेशन द्वारा किया जाता है, जो रोसनेफ्ट के सीईओ इगोर सेचिन और गजप्रॉमबैंक के सीईओ आंद्रेई अकीमोव सहित पुतिन के सहयोगियों को बोर्ड ट्रस्टी के रूप में रखा गया है.

लाइम-लाइट से रहती हैं दूर

हालांकि, पुतिन की बेटियों ने मीडिया को इंटरव्यू दिए हैं, लेकिन उनकी अधिकारिक पहचान पुतिन की बेटियों के रूप में नहीं हुई है. वे शायद ही कभी वयस्क होने के बाद कैमरे पर दिखाई दी हों, हालांकि तिखोनोवा को 2013 में स्विट्जरलैंड में एक एक्रोबेटिक रॉक एंड रोल प्रतियोगिता में प्रतिस्पर्धा करते हुए देखा गया था.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News