Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Thursday, 18 April 2024

Health

जागी उम्मीद: यह वायरस कैंसर को खत्म कर देगा, इंसानों पर शुरू किया क्लीनिकल ट्रायल

25 May 2022 09:33 AM Mega Daily News
वायरस,कैंसर,कोशिकाओं,ट्रायल,ऑनकोलिटिक,विशेषज्ञों,प्रतिरक्षा,खिलाफ,रिसर्च,थेरेपी,संक्रमित,उपयोग,वैक्सिनिया,रिपोर्ट,प्रणाली,,awakened,hope,virus,eliminate,cancer,clinical,trial,started,humans

डॉक्टर्स ने क्लीनिकल ट्रायल के दौरान एक इंसान को एक वायरस का एक इंजेक्शन दिया है, जिसका उद्देश्य शरीर में कैंसर कोशिकाओं को मारना है. यह वायरस जानवरों पर सकारात्मक परिणाम दिखा चुका है. रिसर्च के मुताबिक, इस इलाज को ऑनकोलिटिक वायरस थेरेपी कहा जाता है.

कैंसर कोशिकाओं को करता है नष्ट

ऑनकोलिटिक वायरस (Oncolytic Virus) इम्यूनोथेरेपी (Immunotherapy) का एक रूप है, जो कैंसर कोशिकाओं को संक्रमित और नष्ट करने के लिए वायरस का उपयोग करता है. विशेषज्ञों ने नोट किया है कि वायरस हमारी कोशिकाओं को संक्रमित करते हैं और फिर कोशिका की आनुवंशिक (Genetic) मशीनरी का उपयोग दोहराने के लिए करते हैं.

100 मरीजों पर किया जाएगा ट्रायल

इस नए कैंसर किलिंग वायरस को वैक्सिनिया (Vaccinia) के नाम से जाना जाता है. इसको कैंसर कोशिकाओं को मारने और स्वस्थ कोशिकाओं से बचने के लिए डिजाइन किया गया है. न्यूजवीक की रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि इस ट्रायल को पूरा होने के लिए अभी लगभग दो वर्ष लगेंगे. इसके तहत पूरे अमेरिका में 100 कैंसर रोगियों (cancer patients) पर परीक्षण किया जाएगा.

प्रतिरक्षा प्रणाली की करता है मदद

कैंसर पर रिसर्च करने वाली कंपनी Imugene Limited के अनुसार, यह इलाज कैंसर के खिलाफ लोगों की प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मदद कर सकता है. बता दें कि यह कंपनी ही वायरस वैक्सिनिया का विकास कर रही है. इसका पूरा नाम CF33-hNIS VAXINIA है.

विशेषज्ञों में जगी उम्मीद

यूरेकअलर्ट की रिपोर्ट के अनुसार, ट्यूमर के खिलाफ इस ऑनकोलिटिक वायरस थेरेपी ट्रायल के लिए पहले चरण से विशेषज्ञों को उम्मीद है कि यह वायरस कैंसर के खिलाफ शरीर की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को बढ़ाता है.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News