Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Thursday, 18 July 2024

India

अग्निपथ योजना को लेकर फैलाए जा रहे भ्रम, जानें फौज में भर्ती से जुड़े ये जरूरी फैक्ट्स

22 June 2022 10:26 AM Mega Daily News
अग्निवीरों,तथ्य,भर्ती,योजना,सैन्य,भ्रम,युवाओं,अग्निपथ,सरकार,व्यवस्था,जाएगी,चाहते,आशंकाए,प्रदर्शन,भविष्य,confusion,spread,agneepath,scheme,know,important,facts,related,army,recruitment

अग्निपथ योजना को लेकर कई तरह के भ्रम फैलाए जा रहे हैं और आशंकाए जताई जा रही हैं. इसको लेकर सैन्य बलों में भर्ती को लेकर तैयारी कर रहे कुछ छात्रों ने प्रदर्शन भी किया. सरकार ने उन आशंकाओं को दूर करते हुए कहा है कि सैन्य बलों में भर्ती होने वाले अग्निवीरों का भविष्य पूरी तरह सुरक्षित रहेगा. अब जो भ्रम फैलाया फैलाया जा रहा है, उसको दूर करने के लिए सरकार ने तथ्य सामने रखा है.

तथ्य- पिछले दो वर्षों से पूर्व सैन्य अधिकारियों के साथ विस्तार से चर्चा की गई. यह प्रस्ताव मिलिट्री ऑफिसर विभाग में मिलिट्री ऑफिसरों द्वारा तैयार किया गया. यह विभाग सरकार ने ही गठित किया है. कई पूर्व सैन्य अधिकारियों ने इस योजना को स्वीकार किया है तथा सराहा है. यानी अग्निपथ योजना और अग्निवीरों को लेकर जो आशंकाए हैं, वो बेबुनियाद हैं. सेना को सियासत से भी दूर रखना चाहिए.

तथ्य- यह भारतीय सेना के मूल्यों तथा आदर्शों का अपमान है. 4 साल वर्दी पहनने वाले युवा जिंदगी भर देश के लिए प्रतिबद्ध रहेंगे. आज भी सेना से रिटायर हुए हजारों लोग हैं जिनके पास तमाम कुशलताएं हैं लेकिन वे देश विरोधी ताकतों से नहीं जुड़े.

तथ्य- रेजीमेंट व्यवस्था में कोई भी परिवर्तन नहीं किया जा रहा है. बल्कि, यह और मजबूत होगा क्योंकि सबसे उत्कृष्ट अग्निवीरों का चयन होगा और इससे यूनिट के अंदरूनी तालमेल को और मजबूती ही मिलेगी.

भ्रम- इससे सेना के तीनों अंगों की क्षमता पर प्रतिकूल असर पड़ेगा?

तथ्य- अधिकांश देशों में इस तरह की कम अवधि वाली सेवाओं की व्यवस्था है. यानी इसका पहले ही परीक्षण हो चुका है और युवा तथा तेजतर्रार सेना के लिए सबसे अच्छी व्यवस्था मानी जाती है.

पहले वर्ष भर्ती अग्निवीरों की संख्या आर्म्ड फोर्सेज की केवल 3 प्रतिशत होगी. इसके अलावा, 4 साल बाद सेना में दोबारा भर्ती से पहले अग्निवीरों के प्रदर्शन की जांच की जाएगी. इस तरह, सेना को सुपरवाइजरी रैंक के लिए जांचे और परखे लोग मिलेंगे.

भ्रम- अग्निवीरों का भविष्य असुरक्षित?

तथ्य- जो उद्यमी बनना चाहते हैं, उनके लिए वित्तीय पैकेज और बैंक से कर्ज की योजना है. जो आगे पढ़ना चाहते हैं, उन्हें 12वीं कक्षा के बराबर सर्टिफिकेट दिया जाएगा और आगे की पढ़ाई के लिए ब्रिजिंग कोर्स होगा.

जो नौकरी करना चाहते हैं, उन्हें CAPF यानी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों तथा राज्य पुलिस में भर्ती में प्राथमिकता दी जाएगी. अन्य क्षेत्रों में भी उनके नौकरियों के कई अवसर खोले जा रहे हैं.

भ्रम- अग्निपथ के कारण युवाओं के लिए अवसर कम हो जाएंगे?

तथ्य- इसके उलट युवाओं के लिए सेना में नौकरी के अवसरों में बढ़ोतरी होगी. आने वाले वर्षों में, सेना में अग्निवीरों की भर्ती मौजूदा स्तर के तीन गुना ज्यादा हो जाएगी.

भ्रम- सेना के लिए 21 वर्ष के युवा परिपक्व और भरोसमंद नहीं हैं?

तथ्य- दुनियाभर में सेनाएं युवाओं पर निर्भर हैं. किसी भी समय अनुभवी लोगों की संख्या में युवा अधिक नहीं होंगे. मौजूदा योजना दीर्घ काल में युवाओं तथा अनुभवियों के 50-50 प्रतिशत का मिश्रण लाएगी.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News