Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Wednesday, 22 May 2024

Auto and tech

इस इंटर्नशिप का लाभ उठाने के लिए छात्र 15 जुलाई 2022 तक AICTE के इंटर्नशिप पोर्टल पर जाकर आवेदन कर सकते हैं

15 June 2022 01:25 AM Mega Daily News
इंटर्नशिप,छात्रों,विभिन्न,इंजीनियरिंग,छात्र,एआईसीटीई,बताया,एक्सपोजर,होगा,मिलेगी,पूनिया,फर्स्ट,सकेंगा,जिसके,बुनियादी,engineering,students,able,internship,nhai,get,much,stipend,apply,soon,take,advantage,visiting,portal,aicte,15,july,2022

NHAI Internship 2022: एआईसीटीई के वाइस-चेयरमैन एमपी पूनिया ने बताया कि, इस इंटर्नशिप के जरिए छात्रों को फर्स्ट हैंड एक्सपोजर मिल सकेंगा, जिसके तहत भारत में बुनियादी ढांचे का विकास होगा. साथ ही इंटर्न सड़क डिजाइन, निर्माण और सड़कों के यांत्रिक प्रसंस्करण जैसे क्षेत्रों में काम करेंगे. इससे छात्रों को केमिकल, इलेक्ट्रिकल और मैकेनिकल सहित विभिन्न अन्य विभागों में टीम वर्क सीखने में मदद मिलेगी. 

नई दिल्ली: सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की तरफ से एनआईटी (NIT), आईआईटी (IIT), सरकारी और निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों के सिविल इंजीनियरिंग के अंतिम वर्ष के छात्रों को भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) के साथ उसकी विभिन्न परियोजनाओं के लिए इंटर्नशिप कराने की पेशकश की जाएगी. इसके तहत छात्रों को औद्योगिक प्रशिक्षण और एनएचएआई की विभिन्न परियोजनाओं का एक्सपोजर मिल सकेंगा.    

इस इंटर्नशिप का लाभ उठाने के लिए छात्र 15 जुलाई 2022 तक अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) के इंटर्नशिप पोर्टल पर जाकर आवेदन कर सकते हैं. बता दें न्यूनतम 7 सीजीपीए (CGPA) वाले बीटेक (B.Tech) छात्रों को प्रति माह 10,000 रुपए का मासिक वजीफा दिया जाएगा, जबकि एमटेक (M.Tech) करने वाले छात्रों को 15,000 रुपए मिलेंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एआईसीटीई के वाइस चेयरमैन एमपी पूनिया ने बताया कि, इस इंटर्नशिप के जरिए छात्रों को फर्स्ट हैंड एक्सपोजर मिल सकेंगा, जिसके तहत भारत में बुनियादी ढांचे का विकास होगा. साथ ही इंटर्न सड़क डिजाइन, निर्माण और सड़कों के यांत्रिक प्रसंस्करण जैसे क्षेत्रों में काम करेंगे. इससे छात्रों को केमिकल, इलेक्ट्रिकल और मैकेनिकल सहित विभिन्न अन्य विभागों में टीम वर्क सीखने में मदद मिलेगी. उन्होंने आगे कहा कि छह महीने की लंबी इंटर्नशिप 18 क्रेडिट अर्जित करेगी. एक क्रेडिट के लिए उन्हें 30 घंटे का व्यावहारिक प्रशिक्षण देना होगा.

बता दें कि साल 2017 से इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में इंटर्नशिप अनिवार्य कर दी गई थी और वर्तमान में, इंटर्नशिप प्रदान करने के लिए 50,000 उद्योग एआईसीटीई से जुड़े हुए हैं. इस साल के बजट में और साथ ही केंद्र सरकार ने भी उद्योगों की उभरती जरूरतों के साथ छात्रों को संरेखित करने के लिए इंटर्नशिप बढ़ाने की घोषणा की थी.

वाइस चेयरमैन ने बताया कि इस समय पूरे देश में लगभग 8 मिलियन इंजीनियरिंग छात्र हैं. अगर छात्र इंटर्नशिप करते हैं, तो यह उन्हें काम करने का अनुभव देता है, जो किसी भी छात्र के लिए काम शुरू करने से पहले आवश्यक है. अब हमने शिक्षा संस्थानों के लिए कम से कम पांच कंपनियों के साथ सहयोग करना अनिवार्य कर दिया है, जिससे छात्रों को इंटर्नशिप प्राप्त करने में मदद मिलेगी.

उनहोंने आगे कहा कि हमने आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (Ministry of Housing and Urban Affairs) के साथ भी समझौता किया है, जो 20,000 छात्रों को इंटर्नशिप प्रदान करेगा.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News