Breaking News
माधुरी दीक्षित के साथ जब इस अभिनेता ने कर दी थी गलत हरकत, फुट-फुटकर रोई थी माधुरी हेमा मालिनी और धर्मेंद्र पर टूटा दुखो का पहाड़, बेटी को लेकर आयी बेहद बुरी खबर, पूरा परिवार सदमे में मात्र 417 रुपये का निवेश बना सकता है करोड़पति, हो जायेंगे मालामाल, ऐसे समझे इन्वेस्टमेंट गणित Ration Card New Rule : मुफ्त राशन पर बदल गया नियम, गेहूं और चावल के लिए जरूरी करें यह काम Gold-Silver Price Today : सुबह – सुबह धड़ाम हुए सोने के दाम, खरीददारी करने टूटे लोग, गिरकर 47 हजार के नीचे पहुंच रेट
Saturday, 24 February 2024

India

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार 9वीं बार लाल किले की प्राचीर से राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे

14 August 2022 11:11 PM Mega Daily News
सुरक्षा,पुलिस,स्वतंत्रता,कार्यक्रम,ड्रोन,अलर्ट,दिल्ली,सरकार,आजादी,75वीं,वर्षगांठ,प्रधानमंत्री,करेंगे,राष्ट्रीय,सीमाओं,,prime,minister,narendra,modi,unfurl,national,flag,9th,consecutive,time,ramparts,red,fort

आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर पूरा देश अमृत महोत्सव मना रहा है. हर बार की तरह इस बार भी लगातार 9वीं बार प्रधानमंत्री नरेंद्र लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराएंगे और देश को संबोधित करेंगे. दिल्ली पुलिस स्वतंत्रता दिवस पर शहर में संभावित आतंकी मॉड्यूल और 'असामाजिक तत्वों' पर नजर रखते हुए राष्ट्रीय राजधानी में अभेद्य सुरक्षा की पूरी तैयारी कर ली है. दिल्ली की सभी आठ सीमाओं के साथ-साथ शहर के व्यस्त बाजारों में सुरक्षा और सतर्कता कड़ी कर दी गई है. लाल किले के पास सुरक्षा के कई स्तरों के साथ सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है.

‘हर घर तिरंगा’ समेत कई कार्यक्रम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को लगातार 9वीं बार लाल किले की प्राचीर से राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे और देश को संबोधित करेंगे. इस साल 15 अगस्त को होने वाला समारोह खास है क्योंकि यह भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर हो रहा है और सरकार इस मौके पर कई कार्यक्रम शुरू कर रही है. सरकार ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर ‘हर घर तिरंगा’ समेत कई कार्यक्रम शुरू किए हैं. मोदी अक्सर इस अवसर पर अपनी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के अहम नतीजों पर बात करते हैं और कई बार महत्वपूर्ण घोषणाएं करते हैं. उन्होंने पिछले साल अपने भाषण में राष्ट्रीय हाइड्रोजन मिशन, गति शक्ति मास्टर प्लान और 75 सप्ताह में 75 वंदे भारत ट्रेन चलाने की घोषणाएं की थीं.

2020 में पीएम मोदी ने की थी ये घोषणा

इससे पहले 2020 में प्रधानमंत्री मोदी ने घोषणा की थी कि छह लाख से अधिक गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ने का काम 1,000 दिन में पूरा किया जाएगा. उन्होंने प्रत्येक नागरिक को डिजिटल स्वास्थ्य पहचान पत्र देने की सरकार की योजना का भी जिक्र किया था. उन्होंने 2019 में स्वतंत्रता दिवस के अपने भाषण में प्रमुख रक्षा अध्यक्ष का पद बनाने की अहम घोषणा की थी.

दिल्ली की 8 सीमाओं पर कड़ी सुरक्षा

दिल्ली की सभी आठ सीमाओं के साथ-साथ शहर के व्यस्त बाजारों में सुरक्षा और सतर्कता कड़ी कर दी है, लाल किले के पास सुरक्षा के कई स्तरों के साथ सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है. अंतर्राष्ट्रीय सीमा न केवल विशिष्ट हैं बल्कि काफी मजबूत मानी जाती हैं. स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में सुरक्षा बढ़ाने के लिए पुलिस कर्मियों ने ड्रोन हमलों से सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए ड्रोन रोधी प्रणाली तैनात की है.

ड्रोन को लेकर अलर्ट

लाल किले पर ड्रोन से सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक रडार प्रणाली तैयार की गई है. पुलिस ने कहा कि पुलिसकर्मियों को आसमान में उड़ने वाली संदिग्ध वस्तुओं का मुकाबला करने के तरीके भी सिखाए गए हैं.

आतंकी हमले को लेकर हाई अलर्ट

पंजाब समेत अलग-अलग राज्यों से पकड़े गए आतंकियों से पूछताछ के आधार पर खुफिया एजेंसियों ने सुरक्षा को लेकर हाई अलर्ट जारी किया है. एक अन्य अलर्ट में यह खुलासा हुआ कि पाकिस्तान से ड्रोन की मदद से पिस्टल, हैंड ग्रेनेड और एके 47 सहित घातक हथियार भारत भेजे गए हैं. पुलिस ने आगे खुफिया बलों के हवाले से कहा कि आतंकवादी स्वतंत्रता दिवस पर कई लोन वुल्फ हमलों को भी अंजाम दे सकते हैं. हमले में एक अकेला व्यक्ति धारदार हथियार या किसी बड़े वाहन से भीड़ पर हमला कर सकता है.

लाल किले के आसपास पतंग बैन

एजेंसियों द्वारा पुलिस को पतंग जैसी उड़ने वाली वस्तु के माध्यम से कुछ आतंकवादी हमले के बारे में अलर्ट जारी किए जाने के बाद पुलिस ने लाल किले के चारों ओर पतंग उड़ाने (जब तक स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम जारी है) पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है. पुलिस को बहुत मजबूत स्क्रीनिंग सुनिश्चित करने की सलाह दी गई है. खुफिया एजेंसियों ने पुलिस को बताया, 'आतंकवादी संगठन एसएफजे, जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम), आईएसआईएस खुरासान मॉड्यूल 15 अगस्त के दौरान बड़े हमले की योजना बना रहे हैं.'

7 हजार मेहमानों के शिरकत करने की उम्मीद

स्वतंत्रता दिवस समारोह के मद्देनजर लालकिले के प्रवेश द्वार पर बहुस्तरीय सुरक्षा घेरा बनाए जाने के अलावा चेहरे की पहचान प्रणाली (एफआरएस) वाले कैमरे लगाए गए हैं. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. पुलिस के अनुसार, लाल किले पर स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में लगभग सात हज़ार मेहमान शिरकत करेंगे. सोमवार को स्मारक के आसपास 10,000 से अधिक पुलिस कर्मियों को तैनात किया जाएगा.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News