Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Tuesday, 21 May 2024

India

राष्ट्रपति चुनाव में भी एक फिर ममता का खेला होबे, कांग्रेस समेत 22 विपक्षी नेताओं को दिया न्योता, दिल्ली में बुलाई बैठक

12 June 2022 09:31 AM Mega Daily News
बनर्जी,दिल्ली,विपक्षी,उम्मीदवार,राष्ट्रपति,पश्चिम,बंगाल,बीजेपी,बुलाया,होगी,नेताओं,खिलाफ,विपक्ष,रिपोर्ट,मुताबिक,,mamta,played,presidential,election,22,opposition,leaders,including,congress,invited,meeting,convened,delhi

राष्ट्रपति चुनावों की तारीख के ऐलान के बाद से अब पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) दिल्ली में अहम बैठक बुलाई है। इस बैठक में विपक्षी दलों और गैर बीजेपी शासित राज्यों के सीएम और पूर्व पीएम तक को बुलाया गया है। ये बैठक दिल्ली में 15 जून को होगी। ममता बनर्जी ने शनिवार को दिल्ली में होने वाली बैठक के लिए 22 विपक्षी सीएम और नेताओं को पत्र लिखा है और आने का न्योता दिया है। बैठक का आयोजन विभाजनकारी ताकतों के खिलाफ एक मजबूत और प्रभावित विपक्ष है। रिपोर्ट के मुताबिक, सीएम ममता बनर्जी 14 जून से 16 जून के बीच इस महीने 3 दिनों तक दिल्ली दौरे पर होंगी। पश्चिम बंगाल कैबिनेट के सूत्रों के हवाले से खबर है कि ममता बनर्जी का दौरा प्रारंभिक मिशन के आधार पर होगा। इसलिए सीएम बीजेपी के खिलाफ एकमत से विपक्षी उम्मीदवार को लेकर बैठक में अहम भूमिका निभा सकती हैं।

सीएम ने दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूट क्लब में एक ज्वाइंट मीटिंग में विपक्षी नेतोओं को भाग लेने के लिए निमंत्रण दिया है। ये पत्र अरविंद केजरीवाल, पिनरई विजयन, नवीन पटनायक, कलवकुंतल चंद्रशेखर राव, एमके स्टालिन, उद्धव ठाकरे, हेमंत सोरेन, अखिलेश, लालू यादव, सोनिया गांधी, महबूबा मुफ्ती, फारूख और उमर अब्दुल्ला, भगवंत मान समेत कई नेताओं को बुलाया है। रिपोर्ट के मुताबिक, बनर्जी का दौरा कुछ नामों पर विचार करने के लिए है। जिन्हें सर्वसम्मति से विपक्ष के उम्मीदवार के रूप में प्रस्तावित किया जा सकता है। कैबिनेट के एक वरिष्ठ सदस्य ने बताया कि बैठक में इस बात पर चर्चा हो सकती है कि क्या भाजपा द्वारा अपने उम्मीदवार की घोषणा करने से पहले विपक्षी दलों द्वारा अपने उम्मीदवार के नाम की घोषणा करने की संभावना है। गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव 18 जुलाई को होना है और मतगणना 21 जुलाई को होगी।

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News