Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Monday, 22 July 2024

India

भारत की रक्षा तकनीकियों में सेंध लगाने की कोशिश कर रहें हैं नॉर्थ कोरिया और चीन के हैकर्स

26 May 2022 01:38 AM Mega Daily News
साइबर,रक्षा,कंप्यूटर्स,लगातार,पाकिस्तान,हैकर्स,कोशिश,मुताबिक,सूत्रों,पिछले,लगाने,सुरक्षा,नॉर्थ,डिफेंस,ठिकानों,,hackers,north,korea,china,trying,break,indias,defense,technologies

चीनी हैकर्स देश के अहम ठिकानों में रक्षा और सेंसटिव इंस्टालेशन से जुड़े कंप्यूटर्स में सेंध लगाने की लगातार कोशिश में लगे हुए हैं. सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े सूत्रों के मुताबिक पिछले कुछ महीनों में नॉर्थ कोरिया, चीन और पाकिस्तान में स्थित साइबर हैकर्स लगातार भारतीय सुरक्षा से जुड़ी जानकारियों को हैक करने में लगे हैं.

भारत से क्या जानना चाहता है चीन?

सूत्रों के मुताबिक सबसे ज्यादा चीन से साइबर अटैक के मामले सामने आ रहे हैं. चीनी हैकर लगातार ये जानने की कोशिश में हैं कि भारत-चीन सीमा पर चीन और पाकिस्तान के खिलाफ क्या रक्षा तैयारियां हैं. सुरक्षा एजेंसियां लगातार चीन और नॉर्थ कोरिया के साइबर हमले के खतरे को नाकाम करने के लिए केंद्र सरकार के अहम विभागों के साथ राज्यों को ऐसे खतरे आए बचने के लिए आगाह कर रहीं हैं.

नवंबर में हुए थे कंप्यूटर हैक

IB की साइबर थ्रेड की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल नवंबर महीने देश में रक्षा के साथ साथ सेंसटिव इंस्टालेशन से जुड़े 11 कंप्यूटर्स को हैक किया गया जिसमें दिल्ली के भी दो कंप्यूटर्स हैक हुए और ऐसे 63 वेब एप्पलीकेशन की जानकारी आई है जिसके जरिए कंप्यूटर्स में सेंध लगाने की कोशिश की जा रही है. चीन,पाकिस्तान और नॉर्थ कोरिया के साइबर हैकर्स देश के न्यूक्लियर और डिफेंस प्रोडक्शन से जुड़े कम्प्यूटर को हैक करने की फिराक में हैं.

भारत की रक्षा नीति से परेशान हैं चीन और पाक

चीन और पाकिस्तान भारत की लगातार हो रहीं रक्षा तैयारियों से परेशान हैं. पिछले कुछ सालों में फ्रांस से राफेल, अमेरिका से आए अपाचे, चिनूक हेलिकॉप्टर और Defence Research and Development Organization (DRDO) की तरफ से लगातार नए-नए मिसाइलों की टेस्टिंग से चीन और पाकिस्तान के चिंताएं बढ़ गई हैं और यही वजह है कि पिछले कुछ महीनों में चीन और पाकिस्तान के साइबर हैकर भारत के रक्षा ठिकानों से जुड़े कंप्यूटर्स के साथ-स साथ साथ अहम इंस्टॉलेशन पर भी साइबर अटैक कर रहे हैं, जिससे देश की रक्षा से जुड़ी जानकारियों को हासिल किया जा सके.

सरकारी कंप्यूटर्स पर चीन की नजर

सूत्रों के मुताबिक चीन ये पता लगाने की कोशिश में है कि भारत एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम के साथ-साथ अपने फाइटर जेट्स से लेकर दूसरे हथियारों को कहां-कहां तैनात कर रहा है. चीन की तरह पाकिस्तान भी साइबर हैकर्स के जरिए भारत की जासूसी कर रहा है. चीन के साइबर हैकर्स डिफेंस सेक्टर के साथ-साथ देश के दूसरे क्रिटिकल सेक्टर जैसे कि पावर, बैंक, सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्सेज और पुलिस डिपार्टमेंट के कंप्यूटर्स को भी हैक करने की कोशिश में हैं. साइबर थ्रेड इंटेलिजेंस रिपोर्ट के सूत्रों के मुताबिक राज्यों की स्टेट पुलिस, को- ऑपरेटिव बैंक, पैरामिलिट्री फोर्सेज सिविल एविएशन और गवर्नमेंट डिपार्टमेंट्स को भी साइबर हैकर ने टारगेट किया है.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News