Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Tuesday, 21 May 2024

India

सीएनजी गैस Price Hike: फिर महंगा हुआ गाड़ी चलाना, जानिए इतनी हड़बड़ी में क्यों बढ़ रहे हैं सीएनजी के दाम

23 May 2022 01:45 AM Mega Daily News
सीएनजी,बढ़ोतरी,दामों,रुपये,प्रति,बढ़ोतरी,किलोग्राम,दूसरी,बतादे,कीमतों,दिल्ली,बढ़कर,सप्लाई,आपूर्ति,गर्मी,,cng,gas,price,hike,driving,becomes,expensive,know,prices,increasing,hurry

देश में एक तरफ गर्मी है के थमने का नाम नहीं ले रही है और तो दूसरी तरफ महंगाई भी आम आदमी के बजट पर बारी बारी करके हमला किये ही जा रही है। बतादे के जीवन जरुरी सभी चीजों के दामों मो बढ़ोतरी हो गई है। अभी दो दिन पहले ही घरेलु रसोई गैस के सिलिंडर के दामों बढ़ोतरी हुई थी। अभी इस बढ़ोतरी को दो ही दिन हुए थे के आम आदमी के लिए एक और बुरी खबर आयी है। बतादे के इस बार सीएनजी गैस के दामों मो बढ़ोतरी की गई है।

सीएनजी गैस के दामों मो बढ़ोतरी किये जाने के बाद आम आदमी का हाल बेहाल हो गया है। पेट्रोल डीजल और सीएनजी के दामों मो बढ़ोतरी हो ने के बाद अब रोटी खाना भी महंगा हो गया है। पिछले छह दिनों में यह सीएनजी की कीमतों में दूसरी बढ़ोतरी है।इस बार भी कीमतों में इतनी ही बढ़ोतरी की गई है।इससे दिल्ली में सीएनजी की कीमत अब बढ़कर 75.61 रुप प्रति किलोग्राम हो गई है।

दिल्ली से सटे नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में सीएनजी की कीमत में 2 रुपये की बढ़ोतरी हुई है, जिससे सीएनजी 78.17 रुपये प्रति किलो हो गई है। इसके अलावा गुरुग्राम में सीएनजी 83.94 रुपये किलो हो गई है। मुजफ्फरपुर, मेरठ और शामली में अब सीएनजी की नई कीमत 82.84 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है। इसी तरह रेवाड़ी में सीएनजी का दाम बढ़कर 86.07 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया है।

सीएनजी गैस के दामों मो बढ़ोतरी होने का मुख्य कारण यह भी माना जा रहा है के इस समय पूरी दुनिया में गैस की सप्लाई गड़बड़ाई हुई है। गैस की मांग अधिक है और आपूर्ति कम है। कोरोना वायरस महामारी से उबरने के बाद साल 2021 से ही एनर्जी की मांग दुनियाभर में तेजी से बढ़ी है। लेकिन जिस तरह से मांग बढ़ी, उस तरह से सप्लाई नहीं बढ़ पाई। इससे आपूर्ति संकट पैदा हो गया। इसके बाद रूस-यूक्रेन युद्ध और पश्चिमी देशों द्वारा रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने के चलते तेल विनियमित क्षेत्रों से नेचुरल गैस के उत्पादन की कीमत दोगुनी से अधिक हो गई।

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News