Breaking News
माधुरी दीक्षित के साथ जब इस अभिनेता ने कर दी थी गलत हरकत, फुट-फुटकर रोई थी माधुरी हेमा मालिनी और धर्मेंद्र पर टूटा दुखो का पहाड़, बेटी को लेकर आयी बेहद बुरी खबर, पूरा परिवार सदमे में मात्र 417 रुपये का निवेश बना सकता है करोड़पति, हो जायेंगे मालामाल, ऐसे समझे इन्वेस्टमेंट गणित Ration Card New Rule : मुफ्त राशन पर बदल गया नियम, गेहूं और चावल के लिए जरूरी करें यह काम Gold-Silver Price Today : सुबह – सुबह धड़ाम हुए सोने के दाम, खरीददारी करने टूटे लोग, गिरकर 47 हजार के नीचे पहुंच रेट
Monday, 26 February 2024

India

कोरोना के खौफ के बीच डॉक्टर्स की चेतावनी, दिखें ये 5 लक्षण तो हो जाएं सावधान और तुरंत जाएं डॉक्टर के पास

23 December 2022 12:53 AM Mega Daily News
कोरोना,लोगों,बढ़ते,वेरिएंट,मामले,इंडियन,मेडिकल,एसोसिएशन,दुनियाभर,चिंता,बताया,देखते,कोविड,एडवाजरी,करें,,amidst,fear,corona,doctors,warn,see,5,symptoms,careful,go,doctor,immediately

चीन में बढ़ते कोरोना के मामलों ने दुनियाभर की चिंता बढ़ा दी है. कोरोना के नए वेरिएंट BF.7 को बेहद खतरनाक बताया जा रहा है. चीन के अलावा इसके मामले संयुक्त राज्य अमेरिका, जापान, दक्षिण कोरिया, फ्रांस और ब्राजील में भी देखे गए हैं. अब भारत भी इस नए वेरिएंट से अछूता नहीं है. देशभर में नए वेरिएंट BF.7 के कई मामले देखे गए हैं. बढ़ते कोरोना केसों ने डाक्टर्स की चिंता भी बढ़ा दी है. मामले की गंभीरता को देखते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ( Indian Medical Association-IMA) ने गुरुवार को एक एडवाइजरी जारी की है जिसमें लोगों से कोविड के पुराने नियमों को फिर से पालन करने के लिए कहा गया है.

क्या है एडवाजरी में?

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने अपनी एडवाजरी में कहा कि पब्लिक प्लेस पर लोग मास्क का इस्तेमाल करें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, बाहर से आने के बाद साबुन या सैनिटाइजर से हाथ साफ करें और दूसरे कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें. ऐसा करके कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सकता है. आईएमए ने लोगों को रैलियों, शादी-विवाह और दूसरे किसी भी तरह के सामाजिक बैठकों से दूरी बनाने की सलाह दी है. दुनियाभर में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए आईएमए ने लोगों को अलर्ट किया है और इन गाइडलाइन्स को फॉलो करने की अपील की है.

ये लक्षण दिखें तो हो जाएं सावधान

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने कहा कि अगर किसी शख्स में बुखार, गले में खराश, खांसी, दस्त और लूज मोशन की दिक्कत दिखे तो तुरंत उसे डॉक्टर्स से मिलना चाहिए. फिलहाल भारत में कोई चिंताजनक स्थिति नहीं है लेकिन रोकथाम और इलाज से इसे बढ़ने से रोका जा सकता है. बदलते मौसम में डॉक्टर्स ने लोगों को सतर्क रहने रहने की सलाह दी है. केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने संसद को बताया कि भारतीय हवाई अड्डों पर आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों में से 2 फीसदी लोगों का रैंडम टेस्ट भी किया जाएगा.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News