Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Friday, 21 June 2024

Political News

बहुत जल्द बिहार में दिखेगा नया मुख्यमंत्री, सुशील मोदी का दावा

30 August 2022 09:03 AM Mega Daily News
मुख्यमंत्री,कुमार,नीतीश,कुर्सी,उन्होंने,भाजपा,सुशील,बनाने,मंदिर,चूंकि,प्रसाद,सरकार,तैयार,विधायकों,उन्हें,,soon,new,chief,minister,seen,bihar,claims,sushil,modi

प्रदेश के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मुझ पर दया न दिखाएं, पहले अपनी कुर्सी बचाएं। नीतीश कुमार की कुर्सी कभी भी जा सकती है, चूंकि लालू प्रसाद की पार्टी ने पहले से अपनी सरकार बनाने की रणनीति तैयार कर रखी है। राजद की सरकार बनाने में महज दो-चार विधायकों की उन्हें जरूरत है। वह सोमवार को गया परिसदन में पत्रकारों से बात कर रहे थे। 

बोले कभी भी बदल सकता है सियासी समीकरण

उन्होंने कहा कि गठबंधन भाजपा ने नहीं तोड़ा, बल्कि खुद नीतीश कुमार ने तोड़ा है और लालू-राबड़ी आवास पर जाकर शरणागत हो गए हैं। मुख्यमंत्री कौन है, यह अभी स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। चूंकि मुख्यमंत्री की चाबी लालू और राबड़ी के आवास पर है। तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए पूरा प्रपंच रचा गया है। विधानसभा में राजद के अध्यक्ष हैं। राजद के पास पहले से अन्य दलों को मिलाकर 115 विधायक हैं, विधानसभा अध्यक्ष जब चाहे राजद को सदन में बहुमत दिला सकते हैं। बहुमत के लिए 122 विधायकों की जरूरत है। बहुत जल्द बिहार में नया मुख्यमंत्री देखने को मिल सकता है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, हम भविष्यवक्ता नहीं हैं। राजनीतिक घटनाक्रम से स्पष्ट है कि तेजस्वी को मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाने के लिए लालू प्रसाद ने पूरा खेल किया है। 

2024 की तैयारी में अभी से जुटी भाजपा

सुशील मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार प्रधानमंत्री की कुर्सी का सपना देखना छोड़ दें क्योंकि 2024 में भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ही रहेंगे। लोकसभा चुनाव, 2024 की तैयारी को लेकर भाजपा अभी से जुट गई है, समीकरण तैयार करने में लगी है। इससे पहले उन्होंने भाजपा जिला कार्यालय में संगठन के जिलास्तरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक की। सोमवार को संघ परिवार की बैठक पंजाबी धर्मशाला में हुई। इसमें आरएसएस व सहयोगी संगठनों के शीर्ष पदाधिकारी शामिल हुए। 

माफी मांगें मुख्यमंत्री 

सुशील मोदी ने विष्णुपद मंदिर में पूजा-अर्चना भी की। बीते दिनों विष्णुपद मंदिर में गैर हिंदू के प्रवेश पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जान-बूझकर हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए अपने साथ गैर हिंदू को मंदिर के गर्भगृह में ले गए थे। इस मामले में न तो मंत्री को कोई गिला है और न ही मुख्यमंत्री को। मुख्यमंत्री ने हिंदुओं के अनादर की साजिश रची थी, उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News