Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Sunday, 16 June 2024

Political News

जेडीयू के उपेंद्र कुशवाहा ने नितीश कुमार और लालू प्रसाद पर जोरदार सियासी हमला बोला, कही ऐसी बात

03 February 2023 02:00 AM Mega Daily News
उन्होंने,परिवार,सत्ता,लोगों,कुशवाहा,प्रसाद,बिहार,प्रमुख,गुरुवार,नीतीश,कुमार,जोरदार,लेकिन,पिछड़ों,मजबूत,,jdus,upendra,kushwaha,made,strong,political,attack,nitish,kumar,lalu,prasad,said,thing

बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन में शामिल जनता दल (यूनाइटेड) संसदीय दल के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर भी जोरदार सियासी हमला बोला. उन्होंने कहा कि इन दोनों ने बिहार में करीब 35 साल तक शासन किया, लेकिन अति पिछड़ों को हक मारी गई. एक परिवार को बढ़ाने का काम हुआ. कभी भी सत्ता पर अति पिछड़ों को मजबूत हिस्सेदारी नहीं दी गई.

पटना में जगदेव प्रसाद की जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुशवाहा ने राजद और नीतीश कुमार पर जोरदार निशाना साधते हुए कहा कि राजद के नेता आज अगड़े, पिछड़े और 90 प्रतिशत शोषित की बात कर रहे हैं, लेकिन हकीकत है कि 32 साल से इन्हीं लोगों की सरकार है. इन लोगों ने पिछड़े लोगों को क्या दिया है.

'केवल एक परिवार का शासन चल रहा'

कुशवाहा ने कहा कि पहले 15 साल और अब 17 साल में अतिपिछड़ों की हकमारी हुई है. राजद के लोग 10 फीसदी लोगों के शासन की बात कह रहे. आज भी 10 फीसदी लोग ही सत्ता में बने हुए हैं. केवल एक परिवार का शासन चल रहा है.

उन्होंने कहा कि उस दौर में सत्ता का हस्तांतरण केवल एक ही परिवार के सत्ता में बने रहने के लिए नहीं हुआ था. उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि राजद ने कभी इस 90 प्रतिशत की चिंता करने की बात नहीं की. उन्होंने तो यहां तक कहा कि जगदेव प्रसाद की जयंती मनाने से रोकने की कोशिश की गई.

उन्होंने गुरुवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए एक बार फिर से कहा कि आखिर जदयू और राजद में क्या डील हुई, यह तो बताना चाहिए. उन्होंने जदयू से किसी प्रकार की नाराजगी से इंकार करते हुए कहा कि वे तो जदयू के मजबूत करने की बात कर रहे हैं और इसी में लगे हुए हैं.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News