Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Thursday, 18 April 2024

Investment

रियल एस्टेट सेक्‍टर में आया बूम, निवेश का है सही समय, मिलेगा भरपूर लाभ

13 April 2022 01:28 AM Mega Daily News
निवेश,तिमाही,एस्टेट,क्षेत्र,फीसदी,तीसरी,करोड़,पहुंच,कोलियर्स,इंडिया,घरेलू,निवेशकों,हिस्सेदारी,जनवरीमार्च,महामारी,,boom,came,real,estate,sector,right,time,invest,get,full,benefits

Real Estate Sector : जनवरी-मार्च तिमाही में कोविड महामारी की तीसरी लहर से उबरने के बाद रियल एस्टेट सेक्‍टर में इनवेस्‍टमेंट दोगुना होकर 1.1 अरब डॉलर (करीब 8,375 करोड़ रुपये) पर पहुंच गया. संपत्ति सलाहकार फर्म कोलियर्स इंडिया (Colliers India) ने एक बयान में कहा कि एक साल की समान तिमाही में यह आंकड़ा 50 करोड़ डॉलर था, जबकि इससे पिछली तिमाही में यह एक अरब डॉलर रहा था.

कोव‍िड की तीसरी लहर के बाद आई तेजी

कोलियर्स इंडिया ने एक बयान में कहा, 'भारतीय रियल एस्टेट क्षेत्र में संस्थागत निवेश वर्ष 2022 की पहली तिमाही में 1.1 अरब डॉलर पर पहुंच गया. यह एक साल पहले की समान अवधि के मुकाबले दोगुना है. महामारी की तीसरी लहर के बाद अर्थव्यवस्था के खुलने और निवेश धारणा सुधरने से रियल एस्टेट में निवेश में तेजी आई है.' इस दौरान निवेश को ऑफ‍िस स्‍पेस में हुई कुछ बड़ी डील से समर्थन मिला है.

घरेलू निवेशकों का भरोसा बढ़ा

इस निवेश में 70 फीसदी हिस्सेदारी के साथ विदेशी निवेशकों की बड़ी भूमिका रही है. कंसलटेंट फर्म ने कहा, 'हालांकि वर्ष 2020 में आई गिरावट के बाद घरेलू निवेश की हिस्सेदारी इस तिमाही में 30 फीसदी पर पहुंच गई है, जो कि लगभग महामारी-पूर्व का स्तर है. यह रियल एस्टेट में घरेलू निवेशकों के बढ़ते भरोसे को बयां करता है.'

रेजिडेंशियल सेक्‍टर में स्‍थ‍िरता

जनवरी-मार्च 2022 की अवधि में भारत के रियल एस्टेट क्षेत्र में हुए निवेश का करीब 95 प्रतिशत दफ्तर, खुदरा एवं औद्योगिक एवं लॉजिस्टिक खंड में गया है. इसमें भी खुदरा क्षेत्र 23 फीसदी हिस्सेदारी के साथ सबसे आगे रहा है. जहां तक आवास क्षेत्र में आए निवेश का सवाल है तो यह काफी हद तक स्थिर रहा है. इस तिमाही में आवास क्षेत्र में सिर्फ 1.5 करोड़ डॉलर का ही निवेश आया, जो एक साल पहले की तुलना में महज एक फीसदी की बढ़त दर्शाता है.

कोलियर्स इंडिया के प्रबंध निदेशक (पूंजी बाजार एवं निवेश सेवाएं) पीयूष गुप्ता ने कहा, 'रियल एस्टेट क्षेत्र में सकारात्मक संरचनात्मक बदलाव आए हैं और प्रदर्शन सूचकांक आवास, कार्यालय, औद्योगिक एवं लॉजिस्टिक क्षेत्रों की तगड़ी वापसी की ओर इशारा करते हैं.'

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News