Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Friday, 21 June 2024

Uttar Pradesh

फिर चला योगी का बुलडोज़र, 18 साल से फरार इस आरोपी का गिराया मकान, बरामद हुए हथियार

04 March 2023 08:24 AM Mega Daily News
अब्दुल,हत्याकांड,बताया,पुलिस,विधायक,कार्यवाही,कौशांबी,क्षेत्र,प्रशासन,तत्कालीन,बुलडोजर,अधीक्षक,आरोपी,उन्होंने,हथियार,,yogis,bulldozer,absconding,18,years,accuseds,house,demolished,weapons,recovered

कौशांबी जिले के सराय अकिल थाना क्षेत्र में पुलिस प्रशासन ने शुक्रवार को बहुजन समाज पार्टी (BSP) के तत्कालीन विधायक राजू पाल हत्याकांड में वांछित और फरार चल रहे अब्दुल कवि के मकान को बुलडोजर से गिराने की कार्यवाही शुरू की है. कौशांबी के पुलिस अधीक्षक (SP) बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि सराय अकिल थाना क्षेत्र के भखंदा गांव निवासी अब्दुल कवि, राजू पाल हत्याकांड का आरोपी है और पिछले 18 साल से यह फरार चल रहा है. उन्होंने बताया कि सूचना मिली थी कि अब्दुल ने अपने घर में काफी मात्रा में असलहा और गोला बारूद दीवारों में छिपाकर रखा है.

मकान से हथियार हुए बरामद

एसपी ने कहा कि इसी कारण मकान के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही की गई है. उन्होंने बताया कि अब्दुल के मकान से एक राइफल, दो चापड़, चार कट्टे तथा कुछ कारतूस मिले हैं. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ध्वस्तीकरण और तलाशी की कार्यवाही अभी जारी है. गौरतलब है कि जनवरी 2005 में प्रयागराज जिले में बसपा के तत्कालीन विधायक राजू पाल की हत्या कर दी गयी थी. इसमें बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद और उसके भाई पूर्व विधायक अशरफ समेत कई आरोपी बनाए गए थे. अभी हाल में प्रयागराज में राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह और उनके दो सुरक्षाकर्मियों को अंधाधुंध गोलीबारी कर अपराधियों ने हत्या कर दी. इसके बाद प्रशासन ने माफिया और अपराधियों के खिलाफ सख्ती शुरू की है. आपको बात दें कि अब्दुल कवि को अतीक अहमद का करीबी बताया जाता है.

इन पर भी हुई कार्रवाई

आपको बता दें कि उमेश पाल हत्याकांड के बाद से ही योगी सरकार माफियाओं को लेकर प्रदेश में काफी सख्त नजर आ रही है. इससे पहले भी कई माफियाओं के ऊपर योगी सरकार बुलडोजर एक्शन के तहत कार्रवाई कर चुकी हैं. उमेश पाल हत्याकांड के मामले में चकिया स्थित कथित तौर पर अतीक अहमद का घर गिरा दिया गया जहां पर उसकी बीवी और बच्चे रहा करते थे. अतीक अहमद के करीबी कहे जाने वाले अब्दुल कवि का मकान गिराए जाने से पहले उसके सामान को बाहर निकाला गया था और घर की तलाशी ली गई थी जिस दौरान पुलिस ने वहां पर कई हथियार बरामद किए.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News