Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Thursday, 18 April 2024

Uttar Pradesh

करोड़ों की संपत्ति और चार बेटे, वृद्धाश्रम में बेबसी का जीवन जी रही मशहूर अस्पताल की मालकिन, निर्दयी बेटों ने घर से किया बाहर

08 April 2023 04:15 PM Mega Daily News
लेकिन,विद्या,बेटों,उन्हें,दिया,मीडिया,बताया,मांबाप,कहानी,महिला,वायरल,करोड़ों,अग्रवाल,उन्होंने,लोगों,property,worth,crores,four,sons,mistress,famous,hospital,living,life,helplessness,old,age,home,merciless,kicked,house

मां-बाप बच्चों को पढ़ाने लिखाने और सक्षम बनाने के बाद सोचते हैं कि अब उनका जीवन सफल हो गया है। उनके बच्चे बुढ़ापे उनका सहारा बनेंगे लेकिन आपने कई ऐसे भी कलयुगी संतानो की कहानी सुनी होगी, जिन्होंने सफल होने का बाद अपने बूढ़े मां-बाप को पूछना तक छोड़ दिया। ऐसी ही एक बुजुर्ग महिला की कहानी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जो कभी करोड़ों की मालकिन हुआ करती थी लेकिन अब वह अपनी ज़िंदगी का आखिरी समय वृद्धाश्रम में बीत रहा है।

आगरा के नामी आंखों के अस्पताल के संस्थापक रहे गोपीचंद अग्रवाल की पत्नी विद्या देवी इन दिनों बेबसी का जीवन जी रही हैं। मीडिया से बात करते हुए विद्या देवी ने बताया कि उन्होंने अपने चारों बेटों के पालन-पोषण में किसी तरह की कोई कमी नहीं रखी। उन्हें अपने पैरों पर खड़ा कर उनकी शादी कराई, तब तक उनका जीवन रॉयल चल रहा था। वह करोड़ों की कोठी में रहा करती थी लेकिन पति की मौत के बाद उनका जीवन पूरी तरह से बदल गया।

बेटों ने घर से किया बाहर

विद्या देवी ने कहा कि पति के मौत के बेटों ने संपत्ति में बंटवारा कर लिया लेकिन मां को कुछ नहीं दिया। कुछ दिन तो वह ऐसे रहीं लेकिन बाद में बहू उन्हें इतने ताने मारने लगी कि वह अपने दूसरे बेटे के पास रहने चली गईं। इस तरह से चलता रहा लेकिन यह ज्यादा दिन तक नहीं चल पाया। विद्या देवी ने बताया कि यहां रहने के दौरान किसी ने कहा कि उनके कपड़ों से बदबू आती है तो किसी ने उन्हें गंगा तक में फेंकने की बात की। इन सब बातों से के बीच बेटे विद्या देवी से मारपीट तक करने लगे और धक्के मार कर से बाहर कर दिया।

बेटों को कुछ लोगों ने समझाया लेकिन…

विद्या देवी ने यह भी बताया कि जब इस बात की जानकारी कुछ लोगों को हुई तो उन्होंने बेटों को बहुत समझाने का प्रयास लेकिन बेटों के कान पर जूं तक नहीं रेंगी। जिसके बाद अग्रवाल महिला मंच की अध्यक्ष शशि गोयल उन्हें रामलाल वृद्धा आश्रम लेकर चली गईं। तब से वह वृद्धाआश्रम में ही रह रही हैं। उनकी यह स्टोरी वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोग कई तरह के सवाल उठा रहे हैं।

 

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News