Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Thursday, 18 April 2024

States

आसनसोल जीतने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने बताया ममता को 'गेम-चेंजर'

18 April 2022 01:09 AM Mega Daily News
आसनसोल,सिन्हा,बनर्जी,कांग्रेस,चुनाव,उपचुनाव,बंगाल,सिन्‍हा,भाजपा,tmc,पार्टी,पश्चिम,नेतृत्व,राजनीतिक,सुप्रियो,,shatrughan,sinha,calls,mamata,game,changer,winning,asansol

णमूल कांग्रेस (TMC) के टिकट पर आसनसोल लोक सभा सीट (Asansol by Election) तीन लाख से अधिक मतों के अंतर से जीतने के एक दिन बाद शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) ने कहा कि पार्टी की प्रमुख ममता बनर्जी 2024 के आम चुनाव में 'गेम-चेंजर' साबित होंगी.

ममता बनर्जी को दिया जीत का श्रेय

अभिनेता से नेता बने सिन्हा ने रविवार को कहा कि आसनसोल लोक सभा सीट पर हुए उपचुनाव में रिकॉर्ड अंतर से उनकी जीत पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व की वजह से हुई है. सिन्‍हा ने कहा कि वह तृणमूल कांग्रेस (TMC) के साथ 'एक नई और सबसे अच्छी पारी' शुरू करने को लेकर उत्साहित हैं.

ऐसा है सिन्हा का राजनीतिक सफर

बता दें कि 'शॉटगन सिन्हा' के नाम से मशहूर शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ अपनी राजनीतिक पारी शुरू की थी लेकिन 2019 के लोक सभा चुनाव से पहले वह कांग्रेस में शामिल हो गए थे और अब TMC उम्मीदवार के रूप में पश्चिम बंगाल की आसनसोल लोक सभा सीट से जीते हैं. सिन्‍हा ने कहा कि अब उन्‍हें सही दिशा मिल गई है. पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के लोक सभा की सदस्यता और साथ ही भाजपा से इस्तीफे के कारण आसनसोल में उपचुनाव कराना पड़ा. सुप्रियो ने खुद टीएमसी के टिकट पर बालीगंज विधान सभा सीट से उपचुनाव जीता है.

जीत में 'खेला होबे' की अहम भूमिका 

सिन्हा ने कहा कि भाजपा द्वारा ‘धनशक्ति’ और सत्ता का दुरुपयोग किए जाने के बावजूद, आसनसोल की जीत ममता बनर्जी के सक्षम नेतृत्व और टीएमसी नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा की गई कड़ी मेहनत के कारण है जिसे 2021 के बंगाल चुनाव में भाजपा को शिकस्त देने के ममता के 'खेला होबे' के विस्तार के रूप में देखा जा सकता है.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News