Breaking News
Cooking Oil Price Reduce : मूंगफली तेल हुआ सस्ता, सोया तेल की कीमतों मे आई 20-25 रुपये तक की भारी गिरावट PM Kisan Yojana : सरकार किसानों के खाते में भेज रही 15 लाख रुपये, फटाफट आप भी उठाएं लाभ Youtube से पैसे कमाने हुए मुश्किल : Youtuber बनने की सोच रहे हैं तो अभी जान लें ये काम की बात वरना बाद में पड़ सकता है पछताना गूगल का बड़ा एक्शन, हटाए 1.2 करोड़ अकाउंट, फर्जी विज्ञापन दिखाने वाले इन लोगो पर गिरी गाज Business Ideas : फूलों का बिजनेस कर गरीब किसान कमा सकते है लाखों रुपए, जानें तरीका
Saturday, 20 July 2024

Religious

मृत्यु से पहले ही व्यक्ति को इस बात के संकेत मिलते हैं कि अब वे ज्यादा समय तक नहीं रहने वाले

29 May 2022 11:52 AM Mega Daily News
यमराज,संकेत,मृत्यु,व्यक्ति,लेकिन,संकेतों,कर्मों,वरदान,सुनकर,जानते,यमरजा,आंखों,रोशनी,कमजोर,अंगों,,even,death,person,gets,signs,going,live,long

शास्त्रों में कहा गया है कि जो आया है, वो जाएगा भी. व्यक्ति के धरती पर आने से पहले ही जाने की तिथि भी निर्धारित होती है. ऐसे में व्यक्ति को अपने कर्मों को सुधारने और अच्छे कार्य करने की सलाह दी जाती है. क्या आप जानते हैं मृत्यु से पहले ही व्यक्ति को इस बात के संकेत मिलने लगते हैं कि अब वे ज्यादा समय तक धरती पर नहीं रहने वाले.

यमराज को मृत्यु का देवता माना गया है. यमरजा हर व्यक्ति को मृत्यु से पहले कुछ संकेत देते हैं. अगर मनुष्य इन संकेतों को समझ ले और जानकर अपने कर्मों में सुधार कर ले तो उसे जीवन में सफलता हासिल होती है. वहीं, जो लोग इन सकंतों समझकर भी अनदेखा करते हैं, उन्हें मृत्यु के बाद अपने कर्मों को भोगना पड़ता है. आइए जानते हैं  

यमराज देते हैं ये 4 संकेत

- बालों का सफेद होने लगना

- दांत का टूट जाना

- आंखों की रोशनी का कमजोर होना

- शरीर के अंगों का सही से काम न करना

यमरजा के संकेतों से जुड़ी कथा

धार्मिक कथा के अनुसार अमृत नाम का एक व्यक्ति यमुना नदी के किनारे रहता था और दिन रात यमराज की पूजा-उपासना करता था. उसे अपनी मृत्यु से डर लगता था. एक दिन यमराज ने अमृत की पूजा से प्रसन्न हो उसे वरदान मांगने को कहा. तब उन्होंने यमराज से अमरता का वरदान मांगा.

अमृत की बात सुनकर यमराज ने उसे समझाया कि हर व्यक्ति की मृत्यु जन्म के समय ही तय हो जाती है. यमराज की ये बात सुनकर अमृत ने कहा कि अगर मृत्यु को टाला नहीं जा सकता, तो मुझे बस इतना वर दें कि मृत्यु के आने से पहले मुझे पता चल जाए. और मैं अपने परिवार के लिए कुछ व्यवस्था कर सकूं. अमृत की बात सुनकर यमराज ने उसे मृत्यु की पूर्व सूचना का वरदान दे दिया.

लेकिन यमराज ने भी अमृत से एक वचन लिया कि ये संकेत मिलते ही वे भी दुनिया से विदा लेने की तैयारी शुरू कर दे. इसके बाद कई साल गुजर गए. अमृत ने यमराज से मिले वर से आश्वस्त होकर सारी पूजा पाठ छोड़ दी और विलासिता का जीवन जीना शुरू कर दिया. अब उसे अपनी मौत की चिंता नहीं होती थी. 

समय के साथ व्यक्ति के बाल सफेद होने लगे. साल बीतते गए तो उसके दांत भी टूटने लगे. इसके बाद उसकी नजर कमजोर हो गई. लेकिन फिर भी यमराज का उसे कोई संकेत नहीं मिला. ऐसे ही और  समय बितता गया और बिस्तर से उठने में असमर्थ हो गया. अब वो कोई का नहीं कर पा रहा था. लेकिन उसे फिर भी लग रहा था कि यमराज ने उसे अभी तक कोई संकेत नहीं भेजा. एक दिन अपने आसपास यमदूतों को आते देख, वे आश्चर्यचकित रह गया. यमराज के यमदूत अमृत को यमराज के पास ले गए. 

अमृत ने यमराज के पास पहुंचक यमराज से कहा कि आपने तो वर दिया था कि मृत्यु से पहले मुझे संकेत मिलेंगे. लेकिन मुझे तो कोई संकेत नहीं मिला. तब यमराज ने बताया कि मैंने तुम्हें 4 संकेत भेजे थे, लेकिन तुम अपनी विलासितापूर्ण जीवनशैली के आगे उन संकेतों को समझ न सके. 

तब यमराज ने बताया कि मेरा पहना संकेत तुम्हारे सफेद बाल थे. दूसरा संकेत जब तुम्हारे दांत टूटने लगे. तीसरा संकेत आंखों की रोशनी चली जाता और चौथा इशारा शरीर के अंगों का काम न करना था. लेकिन तुम इन संकेतों को समझ न पाए.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
Latest News